कोशिश तो कीजिये

कभी हार को भी जीत समझ के तो देखिये। मिलेगी जीत यक़ीनन ज़िन्दगी के सफ़र में कभी कर्म को शिद्दत से ज़रा-सा करके तो देखिये।। कोशिश तो कीजिये, कभी भूखे Continue Reading

Posted On :

शाम हो गयी है

इंसानों की शक्ल में हैवान बन गए हैं अब तो कुत्ते भी हैवानियत के शिकार हो गए हैं ख़ुद पे उंगली उठाने से पहले दूसरों पर इलज़ाम लगाने वाले इंसान Continue Reading

Posted On :

सीखा मैंने

जिन्दगी सीखने की ही कला है। जिसको सीखना आ गया मानो उसको जीने का सलीका आ गया है। ये सच है कि सीखने की कोई उम्र नहीं होती। मेरा तो Continue Reading

Posted On :

कंकाल और कंगाल बना दिया

सत्ता ने जनता को अब तो कंगाल बना दिया, पेट्रोल की कीमतों को तो शतक के क़रीब पहुंचा दिया। ये दुनिया चलती है जिसके सहारे उन किसानों की लाशों को Continue Reading

Posted On :

कन्या का पूजन कैसे हो?

कन्या का पूजन कैसे हो, जब सबरीमाला में प्रवेश का बंधन हो। नौ दिन तक तो अंजन हो, बाकी दिन महज़ वो मनोरंजन हो।। कन्या का पूजन कैसे हो, जब Continue Reading

Posted On :
आज़ाद

कमज़ोर नहीं आज़ाद हो तुम

बस जरुरत है एक कदम बढ़ाने की, भीड़ में अपनी पहचान बनाने की, डर डर के जीने से कुछ हासिल न कर पाओगी खुद के लिए आवाज़ उठाओगी तो हक़ Continue Reading

Posted On :