सबरीमाला पर कोर्ट के निर्णय के बाद देश के लोगों की प्रतिक्रियाएं

0
633
views

हिंदू देवता अय्यप्पा को समर्पित केरल के पथानमथिट्टा जिले में अवस्थित सबरीमाला मंदिर में 53 साल पुरानी कड़े कानून पर सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद अब महिलाओं का प्रवेश वर्जित नहीं है। पांच जजों की पीठ ने इस विषय पर अपने निर्णय देते हुए कहा कि संविधान में प्रदत्त किए गए धार्मिक स्वतंत्रता (Art-25,26) तथा समानता के अधिकार (Art-14) के अंतर्गत अब हर उम्र की महिलाएं मंदिर में प्रवेश कर सकती हैं।

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करते हुए सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई ने कहा कि वह जल्दी तारीख घोषित करके सबरीमाला मंदिर अवश्य जाएंगी। तृप्ति देसाई ने इसके पहले भी शनि शिगनापुर मंदिर पर आए कोर्ट के फैसले के बाद वहां जाकर महिलाओं के अधिकारों की जीत पर जश्न मनाया था।
वहीं दूसरी और मंदिर के पुजारियों ने इस फैसले पर विरोध जताते हुए कहा कि यह फैसला धार्मिक आस्था को चोट पहुंचाने वाला है क्योंकि मंदिर में प्रवेश के पहले 41 दिन का व्रत पूरी शुद्धता के साथ किया जाता है जो 10 से 50 वर्ष की महिलाएं मासिक धर्म के कार्य पूरा नहीं कर सकती। हालांकि केरल सरकार इस विषय पर दिए गए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर समीक्षा याचिका दायर नहीं करेगी और वह कोर्ट के फैसले का सम्मान करती है। राज्य के मुख्यमंत्री पीनारायी विजयन ने कहा कि उनकी सरकार सबरीमाला जाने वाली महिला भक्तों की सुविधाओं का ध्यान रखेगी और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करेगी।

धर्म तथा लिंग के आधार पर असमानता के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला सराहनीय है। प्राकृतिक और शारीरिक कारणों की वजह से किसी की स्वतंत्रता का हनन करना तनिक भी सही नहीं है। परंतु देखना यह है कि सुप्रीम कोर्ट ने सकारात्मकता और बदलाव की ओर कदम तो बढ़ा दिया है लेकिन क्या इसके बाद भी वहां की स्थानीय महिलाएं जो धर्म के ठेकेदारों द्वारा धर्म के नाम पर भ्रमित की जाती हैं। वह इस फैसले को किस हद तक मान पाएंगी। देश की अदालत और सरकार का कर्तव्य हमारे अधिकारों को सुरक्षित रखना तथा उसकी समानता को बनाए रखना है। इसके बाद यह हमारी इच्छा पर निर्भर करता है कि हम अपनी स्वतंत्रताओं का कितना सही उपयोग करने में सक्षम और सफल साबित होते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.