राजस्थान उपचुनाव – राष्ट्रवादियों को चेतावनी

0
191
views
राजस्थान उपचुनाव
  • अर्पित चंसोरिया

राजस्थान उपचुनावों के परिणाम कई राष्ट्रवादियों की नींदे हराम करने वाले हैं…..सोशल मीडिया पर कुछ राष्ट्रवादियों का group अब दुगनी मेहनत करेगा कांग्रेस,नेहरु व गांधी जी को पूर्ण रूप से ग़द्दार साबित करने का एवं नाथूराम गोडसे को देश का महानतम व्यक्ति साबित करने का news rooms में बजट व चुनावी परिणाम से बड़ा मुद्दा कासगंज में हो रहे दंगों को लेकर भगवधारियों व मौलनाओं के बीच बहस का होगा जिसमें राष्ट्रवादी पत्रकार लोगों का समूह पूरी कोशिश करेंगे के भड़क उठें व एक दूसरे को गालीयाँ दें ताकि एक कासगंज और दुबारा दोहराया जाये और इनकी चाटुक़ारिता व दुकान यूँही चलती रहे….. राष्ट्रवादी लोग हम जैसे सच बोलने वालों को पाकिस्तान भेजने की क़वायद तेज़ करेंगे और हो सकता है इस बार तो हमारे नाम की समझौता express की ticket बूक हो के आ जाये इस बार….और पूरी पूरी कोशिश रहेगी कि ये बात लोगों के दिल ओ दिमाग़ में ठूँस ठूँस कर भर दी जाये के आज़ादी उन्ही के संगठन के कारण मिली है बाक़ी तो गांधी जी,नेहरू जी,शास्त्री जी राजेंद्र प्रसाद व अन्य जेल में बैठ कर व्हिसकी का गिलास लेकर लूडो खेलते थे। एक वर्ग के बेरोज़गारों के लिए यह ख़ुशख़बरी भी है क्योंकि photoshoppers cell में भर्ती बढ़ने वाली है और यह भी संभव है कि इस बार ये बेरोज़गार नये सिरे से नेहरु जी की किसी वेश्यालय के अंदर कि कोई नग्न तस्वीर वायरल करें |

आख़िर व्यक्तिगत दुश्मनी इन ही के परिवार से तो है।व्यक्तिगत दुश्मन व देश के लिए बड़ी समस्या तो इनके परिवार का व भारतीय मुसलमानो का भारत में रहना है चीन व पाकिस्तान तो इतनी बडी समस्या कहाँ हैं वो तो हमारे ‘Most Favoured business nations’ हैं |  या आसमान के बादलों द्वारा मोदी जी की बनी हुई तस्वीर दिखाएँ और कहें कि मोदी जी विष्णु जी के ग्यारह वें अवतार हैं यह रहा सबूत और भगवान के आदेश का पालन करते हुए हमें पकोड़े बेचने चाहिएँ व देश की आबादी को 600 करोड़ बनाना चाहिये। रविशंकर प्रसाद और संबित पात्रा मीडिया से रुबरू होंगे और कहेंगे-“देखिये Evm एक दम सीता मैया की तरह पवित्र है सबूत आपके सामने है जाँच की कोई ज़रूरत नहीं है।” और यह बोलके भीख स्वरूप चंद सिक्के कांग्रेस की झोली में डालकर पूरा ख़ज़ाना ले उड़े।आप शायद मेरे कहने का मतलब समझ चुके हैं। वैसे यह अहंकार की मम्मी व विकास के पापा की हार हुई है। बाक़ी तो अंत में इतना ही कहूँगा “जो होगा वो बाज़ार में आ जायेगा जो नहीं होगा वो अख़बार में आ जायेगा चोर डाकू लुटेरों की करो क़द्र न जाने कौन कब बदल कर सरकार में आ जाएगा।।……..(राहत इंदौरी )

 

उपदेश राणा जी !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here