एआईबी & उसके कॉमेडियन उत्सव चक्रवर्थी पर क्यों लग रहे आरोप ?

1
620
views

क्या कहा जाये आज की दुनिया को – खुदगर्ज़ , मतलबी या स्वार्थी ? जी हां आप सही सोच रहे तीनो के मतलब एक ही है लेकिन क्या किया जाये आज की दुनिया में बस यही रह गया है, मतलब हद हो गयी है कुछ खुद को सही तो कुछ दुसरो को गलत साबित करने में लगें हैं, कोई ज़िन्दगी जी रहा है तो कोई झेल रहा है। बात करते है उत्सव चक्रवर्थी की जो कि  एक जाने माने कॉमेडियन है। इनके ऊपर  कई लड़कियों ने आरोप लगाया है।

आज की दुनिया में बड़े-बड़े सितारों की बातें लोगो से नहीं ट्विटर थ्रेड के जरिये सामने आतीं हैं। कुछ ऐसा ही हुआ है उत्सव चक्रवोर्थी के साथ भी । लोगो ने आज कल ट्विटर के जरिये एक दूसरे का सच सामने लाने का साधन बना लिया है। ऐसा ही कुछ इस केस में भी है जिसमे एक भारतीय पुरुष के गलत व्यवहार के बारे में चर्चा हो रही थी। इसके तहत एक ट्विटर यूजर ने तय किया कि इस ट्विटर थ्रेड के जरिये वो कॉमेडी की दुनिया में हो रहे महिला के साथ शोषण का पर्दाफाश करेंगी। जी हां बिलकुल सही सुना आपने! इस यूजर ने अपने थ्रेड टॉक की शुरुआत ही उत्सव चक्रवर्थी के ऊपर आरोप लगाने से की।

महिमा का आरोप : उस्तव ने मेरे साथ अभद्रता की

इस  महिला का नाम महिमा कुकरेजा है जो कि एक लेखिका है| इन्होंने उत्सव पर आरोप लगाते हुए कहा की ये लड़कियों से नग्न तास्वीरे भेजने को कहा करते है। यह सब देखने बाद आखिर लडकियां क्यों शांत बैठती? उन्होंने भी एक के बाद एक ट्वीट करना शुरू कर दिया ताकि वो उत्सव का चेहरा सबके सामने ला सके उनको बेनकाब कर सकें।

एआईबी की सफ़ाई ,उत्सव से झाड़ा पल्ला

ये सब होने के एआईबी बाद ने अपना फैसला सुनाते हुए साफ़ कह दिया जब तक मामले की जाँच  हो रही है,जब तक सारा सच सामने नहीं आ जाता हम उत्सव की सारी विडियो अपने चैनल से हटा रहे है और सबसे चौका देने वाली बात तो ये है कि इतना सब कुछ होने जाने के बाद भी उत्सव ने सामने आ के कोई भी बयान नहीं दिया।

आखिर क्यों, क्या, है का सच सामने आ पायेगा? उत्सव गलत है या उनपे लगाये गए आरोप गलत है? यह सब जाँच के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा| लेकिन उत्सव हास्य की आड़ में हैवानियत कर बैठेंगे यह उम्मीद बिलकुल नहीं थी ! शुक्रिया करना चाहिए तनुश्री दत्ता का जिन्होंने लड़कियों को यौन शोषण जैसे अपराधों पर आगे बढ़कर बोलने का बल दिया|

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.